अर्थव्यवस्था की मजबूती व कर्मचारियों के सुरक्षित भविष्य के लिए पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करें सरकार: सुरेन्द्र यादव

अर्थव्यवस्था की मजबूती व कर्मचारियों के सुरक्षित भविष्य के लिए पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करें सरकार: सुरेन्द्र यादव बी.एल. वर्मा :
नारनौल,7अप्रैल  : पेंशन बहाली संघर्ष समिति हरियाणा के जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र यादव ने कहा कि विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 कोरोना वायरस का असर लोगों के स्वास्थ्यए कारोबार के अलावा अब नई पेंशन योजना से जुड़े सरकारी कर्मचारियों पर भी गंभीर रूप से पडऩे लगा है। पिछले 15 दिनों में इन कर्मचारियों को लाखों रुपए तक की चपत लग चुकी है। उनके पेंशन खातों में रोजाना धन राशि घट रही है।

इससे कर्मचारी परेशान होने लगे हैं। दरअसल सरकार ने नई पेंशन योजना के माध्यम से सरकारी कर्मचारियों का पैसा शेयर बाजार में लगाया हुआ है। कोरोना के लगातार बढ़ते प्रकोप से शेयर बाजार व सेंसेक्स धड़ाम हुआ है और सेंसेक्स लगातार गिरने से इन कंपनियों के शेयरों में भारी गिरावट आई है, जिनमें कर्मचारियों का पैसा भी लगा हुआ है। वर्तमान में जिस कर्मचारी का औसतन दस लाख रुपए शेयर मार्केटिंग में चलायमान है।

उस कर्मचारी को लगभग 3 लाख के करीब तक आर्थिक नुकसान हो चुका है। नई पेंशन योजना से जुड़े कर्मचारियों को यह नुकसान वर्तमान में ही नहीं भविष्य में भी लगातार झेलना पड़ेगा। वर्तमान की शेयर बाजार की गिरावट का असर सिर्फ वर्तमान में ही नही अपितु भविष्य में भी नई पेंशन योजना के कर्मचारियों पर आर्थिक नुकसान के रूप में जारी रहेगा। पेंशन बहाली संघर्ष समिति हरियाणा का प्रत्येक कर्मचारी संकट की इस घड़ी में सरकार व समाज के साथ दिन रात कंधे से कंधा मिलाकर सेवा कर रहा है। संगठन सरकार से निवेदन करता है कि देश हित व कर्मचारी हित में नई पेंशन योजना को रद्द करके कर्मचारियों के बुढ़ापे की लाठी पुरानी पेंशन व्यवस्था को अतिशीघ्र लागू करें। जिससे वर्तमान में देश की चरमराई अर्थव्यवस्था को भी फायदा मिले।

About the author

SK Vyas

SK Vyas

Add Comment

Click here to post a comment

All Time Favorite

Categories