कुलपति श्रेयांश द्विवेदी का गौड़ ब्राह्मण सभा ने किया अभिनन्दन

श्री गौड़ ब्राह्मण सभा में हाल महर्षि बाल्मीकि संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ द्विवेदी को विप्र गौरव सम्मान देते हुए श्री गौड़ ब्राह्मण सभा के प्रधान राकेश मेहता एडवोकेट
बी.एल. वर्मा द्वारा
नारनौल 18 सितंबर 2018 : श्री गौड़ ब्राह्मण सभा में हाल ही में नियुक्त हुए महर्षि बाल्मीकि संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति और पूर्व में संस्कृत साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष रहे डॉ श्रेयांश द्विवेदी तथा राजस्थान साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष व राजस्थान के प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी नारनौल निवासी अश्वनी शर्मा का मंगलवार को अभिनंदन किया गया। अभिनंदन कार्यक्रम में डॉ श्रेयांश द्विवेदी ने संस्कृत शिक्षा पर जोर दिया तथा कहा की संस्कृत से ही हमारी संस्कृति संरक्षित रह सकती है और हमारे संस्कार चिर जीवित रह सकते हैं। उन्होंने संस्कृत विश्वविद्यालय में विज्ञान चिकित्सा वाणिज्य कला आदि विषयों के ज्ञान को संस्कृत भाषा में समाहित करने की बात कही। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी  संस्कृत अध्ययन  कर अपने अपने वैदिक ज्ञान के संरक्षण के साथ-साथ रोजगार भी पा सकते हैं ।
विशिष्ट अतिथि अश्वनी शर्मा ने समाज की नई पीढ़ी को शिक्षित करने पर बल दिया और कहा कि संस्कृत विषय के साथ-साथ रोजगारपरक व्यवसायिक शिक्षा की व्यवस्था एवं इस दिशा में युवा पीढ़ी को प्रेरित करने की महती आवश्यकता है।
 इस अवसर पर श्री गौड़ ब्राह्मण सभा के प्रधान राकेश मेहता एडवोकेट ने अतिथियों का स्वागत किया तथा डॉ द्विवेदी को विप्र गौरव सम्मान से नवाजा गया। हरियाणा एग्रो इंडस्ट्रीज के चेयरमैन गोविंद भारद्वाज, जिला भाजपा अध्यक्ष शिव कुमार मेहता, जिला शिक्षा अधिकारी मुकेश लावणीया रामविलास शास्त्री आदि ने कार्यक्रम में दोनों अतिथियों का अभिनंदन में अपने विचार प्रकट किये।
इस अवसर पर पूर्व प्रधान देवदत्त शास्त्री, अर्जुन लाल शर्मा, सचिव दिनेश शर्मा, बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष मनीष वशिष्ठ एडवोकेट, सभा के उप प्रधान मुनिलाल, सह सचिव नरेंद्र झिमरिया, कोषाध्यक्ष निरंजन लाल, डॉक्टर पंकज गौड़,डॉक्टर जितेंद्र भारद्वाज विनोद कौशिक कृष्ण कुमार शर्मा एवं कॉलेजियम की सदस्य सहित अनेक विप्रजन उपस्थित रहे।