Haryana

क्षेत्र के कायाकल्प का कार्य प्रारंभ

चार बड़ी परियोजनाओं में एक पूरी एवं दो पर  कार्य प्रारंभः डॉ अभय सिंह यादव
सुरेन्द्र व्यास द्वारा  : 
नारनौल। नांगल चौधरी के विधायक डा. अभय सिंह यादव ने प्रेस को जारी एक विज्ञप्ति में जानकारी देते हुए बताया कि नांगल चौधरी समेत समस्त महेंद्रगढ़ जिले को सरकार ने चार बड़ी परियोजनाएं पिछले 5 साल में दी हैं। इसमें नहरी प्रणाली में व्यापक सुधार मेडिकल कॉलेज की स्थापना नेशनल हाईवे का विस्तृत नेटवर्क एवं लॉजिस्टिक हब सम्मिलित हैं। नहरी पानी की व्यवस्था में व्यापक सुधार के लिए बनाई गई 143 करोड रुपए की लागत से लिफ्ट प्रणाली के नवीनीकरण की परियोजना पूर्ण की जा चुकी है। इसके साथ ही क्षेत्र की अधिकांश नहरों को सीमेंट कंक्रीट लाइनिंग द्वारा पक्के करने का कार्य भी पूर्ण कर लिया गया है।
इसी तरह नारनौल के नजदीक कोरियावास गांव की जमीन पर बनने वाले मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिए टेंडर द्वारा निर्माण कार्य के लिए एजेंसी को काम सौंप दिया गया है तथा अतिशीघ्र ही अगले महीने तक इसके निर्माण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा।
 इसी तरह पनियाला मोड़ से इस्माइलाबाद तक बनने वाले ग्रीन फील्ड कॉरिडोर पर नांगल चौधरी बाईपास पर  6 मार्गी नेशनल हाईवे का काम बड़ी तेजी से चल रहा है। इसी क्रम में गहली चौक से पचेरी राजस्थान बॉर्डर तक बनने वाले नेशनल हाईवे पर भी कार्य प्रारंभ हो चुका है।। लॉजिस्टिक हब को जोड़ने वाले नांगल चौधरी निजामपुर रोड को चार मार्गी बनाने का कार्य भी चालू है।
डा. यादव ने आगे बताया कि भूमि संबंधी एक कोर्ट केस की वजह से केवल लॉजिस्टिक हब के निर्माण का कार्य अभी लंबित है तथा उम्मीद है कि अतिशीघ्र ही इस कार्य को भी शुरू करवा लिया जाएगा। डॉ यादव ने दावा करते हुए कहा कि आजादी के बाद पिछले 70 साल के में इस क्षेत्र की किसी सरकार ने सुध नहीं ली। इस क्षेत्र के विकास का श्रेय मुख्यमंत्री मनोहर लाल को जाता है जिन्होंने समग्र ग्रामीण विकास के साथ ही सड़क बिजली पानी एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक मजबूत आधारभूत ढांचे की नींव डाली है जो आने वाले वर्षों में इस क्षेत्र की  कायाकल्प करने वाला है। अगले तीन से चार साल की अवधि में जब वर्तमान में चालू सभी प्रोजेक्ट पूरे कर लिए जाएंगे तो क्षेत्र का एक नया स्वरूप उभरकर आएगा जहां औद्योगिक विकास का नया द्वार खुलेगा। क्षेत्र का रेल एवं राष्ट्रीय राजमार्ग दोनों उच्च कोटि के संपर्क मार्गों से जुड़ना एक ऐतिहासिक घटना होगी जो इस क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर करने में मील का पत्थर साबित होगी। आने वाली पीढ़ियां भाजपा सरकार की इस धरोहर को हमेशा याद रखेंगी।