Haryana

पुलिस अधीक्षक ने वाहन चालकों को यातायात नियमों से अवगत करवाया

महेन्द्रगढ़ के राव तुलाराम चौक पर वाहन चालकों को यातायात के नये नियमों की जानकारी देते एसपी।

त्रिभुवन वर्मा द्वारा  :
महेन्द्रगढ 15 सितंबर 2019।जिला पुलिस की ओर से चलाए जा रहे अभियान के तहत रविवार को राव तुलाराम चौक पर लोगों को यातायात के नए नियमों के प्रति जागरूक किया गया। इस मौके पर एसपी दीपक सहारण ने लोगों को यातायात के नए नियम बारिकी से बताए। उन्होंने बिना हेलमेट के चल रहे लोगों को जागरूक किया तथा उन्हें एक संस्था की ओर से हेलमेट भी दिए। हेलमेट के अलावा यातायात के नियमों का पालन नहीं करने वालों को गुलाब के फूल भी भेंट किए। इस मौके पर अनेक पुलिस अधिकारी व नगर पालिका की चेयरपर्सन रीना गर्ग भी मौजूद थी।
राव तुलाराम चौक पर चलाए गए अभियान के दौरान एसपी ने बिना हेलमेट के बाइक चला रहे लोगों को रुकवाया। इसके बाद एसपी ने बाइक चालकों से अलग-अलग हेलमेट न पहनने के कारण भी पूछा। एसपी ने युवाओं से कहा कि आप हेलमेट नहीं पहनकर आए। इसके नुकसान के बारे में पता है या नहीं। उन्होंने कहा कि अगर हेलमेट नहीं पहनोगे तो आपकी जान भी जा सकती है। ऐसे में जान जाने के बाद परिवार वालों पर क्या बितेगी यह पता नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति की जान बहुत ही कीमती होती है। उसके जाने के बाद परिवारजनों पर दुखों का न केवल पहाड़ टूटता हैए बल्कि उसकी कमी से घर बिखर भी जाता है। इसलिए हमें अपनी जान की रक्षा के लिए हेलमेट पहनना चाहिए। उन्होंने एक बाइक सवार से पूछा कि क्या वह मोबाइल फोन लेकर आया है। इस पर बाइक सवार ने कहा कि हां लेकर आया हूं। इस पर एसपी ने उसको समझाया कि आप मोबाइल फोन लाना कभी नहीं भूलते हो, तो बाइक उठाने से पहले हेलमेट पहनना कैसे भूल जाते हो। उन्होंने कहा कि हेलमेट को भी ऐसे रुटिन बना लें कि उसको पहनना बाइक उठाते ही याद आ जाए। इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए एसपी ने कहा कि आप अपने वाहन के कागजात मोबाइल में भी दिखा सकते हैं। मोबाइल में कागजात होने पर भी आपका चालान नहीं कटेगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने नए यातायात नियम बनाए हैं। इन नए नियमों के तहत लोगों को जागरूक किया जा रहा है। नए नियमों से फर्क भी पड़ा है तथा चालान से बचने के लिए लोग हेलमेट पहनने लगे हैं। वहीं अन्य नियमों का भी पालन करने लगे हैं। उन्होंने कहा कि नए नियमों के बाद लोग सर्तक हो गए हैं। यह लोगों की जान की रक्षा के लिए ही बनाए गए हैं। इससे हादसों में काफी कमी आएगी। कोई भी ओवर स्पीड नहीं चलाएगा। वहीं शराब पीकर भी वाहन नहीं चलाएंगे।