Haryana Hindi News

पेड न्यूज समाज के लिए करती  है कैंसर का काम:रंजन

लोक सभा आम चुनाव के लिए गठित की एमसीएमसी कमेटी, पीपल एक्ट 1951 की धारा 127ए की उल्लघंना करने वाले को हो सकती है 6 माह की सजा

कुरुक्षेत्र 28 फरवरी।  (गौतम देव शर्मा )   हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन ने कहा कि पेड न्यूज समाज के लिए कैंसर का काम करती है। इसलिए पेड न्यूज पर लोक सभा आम चुनाव 2019 में विशेष फोकस किया जाएगा। इस पेड न्यूज पर निगरानी रखने के लिए जिला स्तर पर मीडिया सर्टीफिकेशन और मोनिटरिंग कमेटी का भी गठन किया गया है।

सीईओ राजीव रंजन देर सायं चंडीगढ से वीडियों कान्फ्रसिंग के जरिए अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोक सभा आम चुनाव 2019 में प्रिंट मीडिया,सोशल मीडिया, इलैक्ट्रोनिक्स मीडिया,एसएमएस, वायॅस एसएमएस, सिनेमा हॉल, रेडियों व अन्य प्रचार-प्रसार के माध्यमों पर विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा दिए जाने वाले विज्ञापनों और पेड न्यूज पर पैनी निगाहें रखी जाएंगी। भारत चुनाव आयोग के आदेशानुसार लोक सभा आम चुनाव 2019 में सभी को आदर्श चुनाव आचार संहिता और प्रैस काउंसिल ऑफ इंडिया की पालना सभी को करनी होगी। उन्होंने कहा कि पेड न्यूज को समाज के लिए कैंसर समझा जाता है। पेड न्यूज के कारण पाठकों को सही तथ्य और जानकारी नहीं मिल पाती, राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों के सही खर्चो का आंकलन नहीं हो पाता और जीएसटी और इन्कम टैक्स को छुपाने वाली संस्थाओं की जानकारी नहीं मिल पाती,इसलिए इन तमाम तथ्यों को जहन में रखते हुए भारत चुनाव आयोग के आदेशानुसार पेड न्यूज पर अंकुश लगाना बहुत जरूरी है।

उन्होंने एमसीएमसी कमेटी की डयूटी, कर्तव्यों और जिम्मेवारियों की बारिकी से जानकारी देते हुए कहा कि कमेटी के सभी सदस्यों को समाचार पत्रों, टीवी चैनलों, सोशल मीडिया, रेडियों पर पूरी तरह से निगरानी रखनी होगी। उन्होंने बताया कि विज्ञापनों के लिए सभी राजनैतिक दलों से एमसीएमसी कमेटी से अनुमति लेनी होगी उसके बाद ही विज्ञापनों को जारी किया जा सकेगा। कोई भी राजनैतिक दल किसी दूसरे राजनैतिक दल के खिलाफ विज्ञापन नहीं दे पाएगा और प्रमाण-पत्र देने से पहले कमेटी के सदस्य विज्ञापन के तथ्यों का बारिकी से अध्ययन करेंगे। इस मौके पर उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, एसडीएम अश्वनी मलिक, एसडीएम निर्मल नागर, एसडीएम संयम गर्ग, एसडीएम अनिल यादव, डीआईपीआरओ सुरेश कंवर, डा. अशोक शर्मा, डीआईओ विनोद सिंगला, चुनाव तहसीलदार संदीप, चुनाव कानूगो, सुभाषचंद, नीलम, सुरेश सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी हरियाणा के आदेशानुसार मीडिया सर्टिफिकेशन और मोनिटरिंग कमेटी का गठन कर दिया गया है। इस कमेटी में चारों विधानसभा क्षेत्रों के सहायक रिटॢनंग अधिकारी, ऑल इंडिया रेडियों से स्टेशन इंजीनियर, जिला सूचना अधिकारी, जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय लोक सम्पर्क विभाग के निदेशक डा. तजेन्द्र शर्मा, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय मास कम्यूनिकेशन निदेशालय के सहायक प्रोफेसर डा. अशोक शर्मा को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।