बादल, कैप्टन और मोदी नहीं चाहते जनतक हों बेअदबी के असली दोषी – कुलतार सिंह संधवां

 

बादल, कैप्टन और मोदी नहीं चाहते जनतक हों बेअदबी के असली दोषी - कुलतार सिंह संधवां

चंडीगढ़, 31 जुलाई 2019 :आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के सीनियर नेता और विधायक कुलतार सिंह संधवां ने दोष लगाया कि बेअदबी मामले पर घट रहे ताजा घटनाक्रम और स्वै विरोधी ब्यानबाजियों से साफ है कि सुखबीर सिंह बादल समेत प्रधान मंत्री नरिन्दर मोदी और मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिदंर सिंह ही नहीं चाहते कि 4 साल पहले श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी और बहबल कलां कोटकपूरा गोलीकांड के असली दोषी नंगे हों और पकड़े जाएं।
‘आप’ मुख्य दफ्तर द्वारा जारी बयान में कुलतार सिंह संधवां ने कहा कि दोषियों को बचाने के लिए बड़े स्तर की तिकड़मबाजी चल रही है। पहले सीबीआई को जांच सौंपां, फिर जांच वापिस लेना और इसी दौरान सीबीआई की तरफ से क्लोजर रिपोर्ट में जस्टिस जोरा सिंह और जस्टिस रणजीत सिंह कमीशनों समेत पंजाब पुलिस की तीनों जांच टीमें (आईपीएस सहोता, आरएस खटड़ और सिट /कंवर विजय प्रताप सिंह) की तरफ से जांच और दिए तथ्यों-सबूतों को पलट दिया है, जिसका सीधा लाभ दोषियों को मिलना स्वाभाविक है।
कुलतार सिंह संधवां ने कहा कि कल तक क्लोजर रिपोर्ट के विरोध में ड्रामेबाजी और दिखावा कर रहे सुखबीर सिंह बादल और उनकी पार्टी अब उसी सीबीआई क्लोजर रिपोर्ट की शरण में आ गए हैं। संधवां ने कहा कि वास्तव में यही कुछ होना था, बस बिल्ली के थैले से निकलने का इन्तजार था, जो सोमवार को अमृतसर में सुखबीर बादल के उस बयान के साथ बाहर आ गई कि सिट की जांच लोक सभा चुनावों को प्रभावित करने की तरफ प्रेरित थी, जबकि सीबीआई ने सभी दोषों और तथ्यों सबूतों को झूठा साबित कर दिया है।
संधवां ने कहा कि बेअदबी मामले की जांच की कार्यवाही यदि पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट अपनी रोजनुमा तीखी निगरानी में नहीं करवाएगी तो कभी भी असली दोषी और उनके आका नंगे नहीं हो सकते, क्योंकि सीबीआई जो कि बादलों की भागीदारी वाली केंद्र सरकार के इशारों पर काम करती है, उसी तरह सिट की ढीली जांच भी राजनैतिक ताकतों पर निर्भर है, क्योंकि मिलजुल कर सत्ता का खेल खेलने वाले कैप्टन अमरिन्दर सिंह भी कभी नहीं चाहते कि बेअदबी का सेक बादल परिवार तक पहुंचे।

About the author

SK Vyas

SK Vyas

Add Comment

Click here to post a comment

All Time Favorite

Categories