Haryana

बिना महिला चिकित्सकों के कैसे साकार होगी प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा अभियान योजना

बी.एल. वर्मा द्वारा
महेन्द्रगढ़ 9फरवरी 2019  :स्थानीय उपनागरिक अस्पताल में हर माह की 9 तारीख को प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की जांच के लिए शिविर लगाया जाता है। इस जांच शिविर में लगभग 250 से 300 गर्भवती महिलाएं जांच के लिए आती हैं। आज शिविर के दौरान केवल एक डॉक्टर निशा यादव ही महिलाओं की जांच करती नजर आई जिसके कारण शिविर का लाभ लेने आई गर्भवती महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। प्राप्त जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारियों ने नारनौल के कई डॉक्टरों की छुट्टी मंजूर कर रखी है वहीं महेंद्रगढ़ के डॉक्टरों की उनके स्थान पर नारनौल ड्यूटी लगा रखी है। इसी वह से आज शिविर में जांच कराने आई महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। शिविर में जांच करवाने आई प्रियंका , पूजा, राजबाला, संतरा, मुकेश, शोभा, मधूबाला, सुनिता, रीना, मंजू, पिंकी, कोमल, रीतू, चंचल, निशा आदी ने बताया की सरकार की मातृत्व सुरक्षा योजना के नाम पर गर्भवती महिलाओं को परेशान किया जा रहा है। उनका कहना था कि सुबह सात बजे आ कर लाइन में लगने के बाद भी दोपहर दो बजे तक उनका नंबर नहीं आता जिसके कारण उन्हें परेशानी उठानी पड़ रही है।