Hindi News

बैंस भाइयों के नजदीकी रहे रंजीत राणा हुए कांग्रेस में शामिल 

बैंस  हलके के लोगों ने बिट्टू आगे रोया हुआ अपना दुक्खड़ा
लुधियाना 19 अप्रैल (  )- बैंसों  ने न तो कोई हलके का काम किया, न ही वह साथियों की उम्मीदों और खरे उतरे, वह तो सिर्फ़ सुर्खियां बटोरने में लगे रहते हैं। इन शब्दों का प्रगटावा लोक इंसाफ़ पार्टी के लिए लंबा समय काम कर पार्टी छोड़ने वाले रणजीत सिंह राणा ने अपने साथियों सहित कांग्रेस पार्टी में शामिल होते समय किया।  उन्हों ने कहा कि बैंस भाई हंकारे पड़े हैं , जिनको पुरानों की कोई कद्र ही नहीं, पार्टी बनाने समय तो  बहुत इन्साफ की बात की थी, परंतु उन्हों ने लोगों की उम्मीदों पर क्या खरा उतरना थी, वह तो पार्टी के साथियों की उम्मीदों पर ही गधे नहीं उतरे। उन आप दिया विकास क्या करवाना था, अगर किसी दूसरे नेता ने करवाने की कोशिस भी की तो काम में रोड़े अटका दिए। उन्हों कहा कि पटवारियों जैसे सरकारी अफसरों ख़िलाफ़  सुर्खियां बटोर कर उन्हों ने इलाके के लोगों की मुश्किलें और बड़ा दी, क्योंकि उन इलाकों में अब तक दोबारा काम शुरू नहीं हो सका।
       हलका आत्म नगर और दक्षिणी के वार्ड नं 36 और 37 में चुनाव चयन प्रचार के दौरान  इलाके के लोगों ने भी बिट्टू के पास  हल्के की दुर्दशा का रोना रोया और विश्वास दिलाया कि इस बार वह कांग्रेस के साथ हैं, और किसी के भी बहकावे में नहीं आऐंगे। इस अवसर पर बिट्टू ने भी अपने संबोधन दौरान कहा कि अब समय आ गया है कि सभी धोखों का हिसाब लिया जाये और जिस तरह पिछले दो सालों दौरान ही कैप्टन सरकार पंजाब को फिर से तरक्की की रास्ते के राष्ट्र पर लेकर आयी है , उसी तरह देश की बागडोर राहुल गांधी के हाथों में सौंप देनी चाहिए जिससे देश को बरबाद होने से बचाया जा सके। इस मौके उन के साथ कमलजीत कड़वल , डिप्टी मेयर सरबजीत कौर , जरनैल सिंह शिमलापुरी, प्रिंस जौहर, राजीव राजा, मुखत्यार सिंह, रजिन्दर सिंह बाजवा, सुनील शुक्ला आदि बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता हाजिर थे।