Haryana Hindi News

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने की बाजरा खरीद की तैयारियों की समीक्षा

नारनौल मीटिंग हाल में वीडियो कांफ्रेसिंग में मौजूद उपायुक्त।

किसानों की सहुलियत के लिए अब 18 सितंबर तक खुला रहेगा पोर्टल,बिना पंजीकरण नहीं होगी सरकारी खरीद

एक अक्टूबर से शुरू होगी सरकारी खरीद
बी.एल. वर्मा द्वारा
नारनौल 14 सितंबर 2018 : जो किसान मेरी खेती-मेरा ब्यौरा ई-दिशा पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण करवाएगा उसी किसान का बाजरा सरकारी रेट 1950 रुपए प्रति क्विंटल पर खरीदा जाएगा। किसानों की सुविधा के लिए अब यह पोर्टल 18 सितंबर तक खुला रहेगा। राज्य में बाजरे की खरीद एक अक्टूबर से शुरू होगी। सभी उपायुक्त इस संबंध में पूरी तैयारी कर लें। ये निर्देश आज मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर ने वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बाजरा खरीद की तैयारियों की समीक्षा के दौरान दिए। इस मौके पर अतिरिक्त मुख्य सचिव रामनिवास भी मौजूद थे।
जिले में हुई तैयारियों के संबंध में उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने बताया कि जिले में अब तक 4800 किसानों ने ई-दिशा पर अपनी बाजरा फसल का ब्यौरा दिया है। किसानों की सुविधा के लिए सभी सीएससी केंद्र व अटल सेवा केंद्रों पर किसानों को पंजीकृत किया जा रहा है।
प्रधान सचिव ने निर्देश दिए कि कृषि विकास अधिकारी आज से गांवों में जाकर किसानों को जागरूक करें तथा शेष किसानों का हर हाल में 18 सितंबर तक पंजीकरण करवाएं। फसल बेचने के बाद उसका भुगतान सीधे किसानों के खाते में आएगा। इसके लिए किसान टोल फ्री नंबर 18001800023 पर भी जानकारी ले सकते हैं।
उन्होंने कहा कि यह देश में एतिहासिक शुरूआत है। हम परंपरागत तरीकों से बहुत ही आधुनिक तरीकों की तरफ जा रहे हैं। इसकी सफलता के लिए सभी अधिकारी पूरी जिम्मेदारी के साथ काम करें। इसकी सफलता हमें देश में सम्मान दिलाएगी। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार व एसडीएम जगदीश शर्मा के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे।
गांवों में स्थापित सीएससी सेंटर व अटल सेवा पर करवा सकते हैं पंजीकरण : डीसी
उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने किसानों से आह्वान किया है कि वे बाजरा खरीद के लिए शुरू किए गए पोर्टल पर पंजीकरण करवाएं। उन्होंने बताया कि किसान डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट ईदिशा डॉट जीओवी डॉट इन पर उपलब्ध मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर आसानी से अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। किसान अपने गांव या आसपास मौजूद कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर भी पंजीकरण करवा सकते हैं। किसान अपने स्मार्ट फोन से भी पंजीकरण करवा सकते हैं। इसके लिए वे जमीन की खेवट नंबर, बैंक नंबर, आधार नंबर व मोबाइल नंबर की जानकारी देनी होगी। उन्होंने बताया कि इसके बाद किसानों का बाजरा एक अक्टूबर सरकारी रेट पर खरीद जाएगा।