मुख्य पंडाल में गुरबानी के मंत्रमुग्ध करने वाले कीर्तन से निहाल हुई संगत

-पंथ प्रसिद्ध कीर्तनी जत्थों ने कुदरत के कादर की स्तुति की

सुरेन्द्र व्यास द्वारा :

सुल्तानपुर लोधी, कपूरथला, 10 नवंबर,2019:  गुरु नानक देव जी की पवित्र चरण स्पर्श से सराबोर रही सुल्तानपुर लोधी की पवित्र धरती पर रविवार की सुबह से संध्याकाल तक मुख्य पंडाल में युगों युग अटल श्री ग्रंथ साहब जी की छत्र छाया में सजे दीवान में आज गुरबानी के ईश्वरीय कीर्तन ने संगत को गुर चरणों के साथ जोड़े रखा। सिख पंथ के प्रसिद्ध विभिन्न  कीर्तनी जत्थों ने मत्रमुग्ध करने वाले कीर्तन से संगत को निहाल किया।

सिमरि सिमरि पूर्ण प्रभु, कार्य भए रासि,

करतारपुरि कर दिया वसै संतन के पासी॥

इस शब्द के द्वारा जब भाई सतिन्दरपाल सिंह सुल्तानपुर लोधी वालों के जत्थे ने ईश्वरीय बाणी का कीर्तन शरू किया तो सारी संगत ने एकमन हो उस ईश्वरीय ज्योति की प्रशंसा में भागीदारी डाली  क्योंकि वाहिगुरू के सिमरण के साथ ही मानव के सभी कार्य सिद्ध होते हैं।

इसके बाद प्रिंसीपल सुखवंत सिंह जडिंयाला ने जीवन में सच्चे गुरु के महत्व को सार्थक करता गुरबानी का शब्द

मत को वहमी भूले संसारी,

गुर बिन कोयी न उतरसि पारी॥

का गायन किया। इसके बाद उनके जत्थे ने पुरातन तंती साजों सहित मारू राग में करते हुएण् आगे एक सिख के हृदय की पीड़ा बयान करता शब्द गान किया

जो मय बेदन सा किसु आखां माई, हरी बिनु जिउ ना रहे कैसे राखा माई॥

इसके बाद बीबी राजविन्दर कौर अमृतसर के जत्थे के ईश्वरीय कीर्तन के साथ नगरी की आबो हवा में ईश्वरीय बाणी की तरंगे फैल गई। इस उपरांत डा. गुरिन्दर सिंह बटाला, भाई सतविन्दर सिंह बौदल, बीबी आशुप्रीत कौर जालंधर, डा. नवेदित्ता सिंह पटियाला और भाई बलवंत सिंह नामधारी के कीर्तनी जत्थों ने गुरबाणी गायन द्वारा इस ब्रह्मांड के निरवैर, निर्भय, सिरजनहारे की प्रशंसा से संगत को गुरबाणी से जोड़ा।

इस मौके राजस्व विभाग कैबिनेट मंत्री स. गुरप्रीत सिंह कांगड़ और स्थानीय विधायक स नवतेज सिंह चीमा ने भी संगत के साथ नम्र सिख में गुरु जी के दरबार में हाजिरी भरी। इसके अतिरिक्त बाबा परगट सिंह चोला साहब वाले, बाबा साहब सिंह, बाबा प्रितपाल सिंह, बाबा बीरा सिंह सिरहाली साहब वाले भी श्री गुरु ग्रंथ साहब जी के आगे नतमस्तक हुए।

About the author

SK Vyas

SK Vyas

Add Comment

Click here to post a comment

All Time Favorite

Categories