Haryana Hindi News

हरियाणा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग के निर्देशानुसार किसान सोलर पंप के लिए 30 सितंबर तक हरियाणा  सरकार की वेबसाइट सरल हरियाणा डॉट जीओवी डॉट इन पर आनलाइन आवेदन सकते हैं

सुरेन्द्र व्यास द्वारा :
नारनौल, 12 सितंबर,2019: हरियाणा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग के निर्देशानुसार किसान सोलर पंप के लिए 30 सितंबर तक हरियाणा 
सरकार की वेबसाइट सरल हरियाणा डॉट जीओवी डॉट इन पर आनलाइन आवेदन सकते हैं। आवेदन के साथ जमीन की फर्द, आवेदनकर्ता की फोटो, आधार कार्ड व अन्य एक आईडी स्वयं द्वारा सत्यापित करके आनलाइन आवेदन करवा सकते हैं। 
यह जानकारी देते हुए अतिरिक्त उपायुक्त डा. मुनीश नागपाल ने बताया कि नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा 3 एचपी, 5 एचपी, 7.5 एचपी व 10 एचपी तक के सौर ऊर्जा पंप 75 प्रतिशत अनुदान पर दिए जाएंगे।  उन्होंने बताया कि जो किसान पौंड, सुक्ष्म सिचांई, टपका सिचांई, फव्वारा सिस्टम के द्वारा सिंचाई करते हैं वे किसान 3 एचपी, 5 एचपी, 7.5 एचपी व 10 एचपी तक का सोलर वाटर पम्पिगं सिस्टम लगवा सकते हैं। इसके अतिरिक्त गौशालाओं, वाटर यूजर एसोसिएशन, सामुहिक सिंचाई सिस्टम को भी 75 प्रतिशत अनुदान पर सौर ऊर्जा पम्प दिए जाएंगे।
उन्होंने बताया कि जिले में प्राप्त निर्धारित लक्ष्यों से ज्यादा आवेदन प्राप्त होने पर ड्रा के माध्यम से सोलर वाटर पंप वितरित किए जाएंगे। जिन किसानों को पहले अनुदान पर सौर वाटर पंप दिए जा चुके हैं वे किसान इस योजना के तहत पात्र नहीं हैं। एक किसान को केवल एक ही सोलर वाटर पंप दिया जाएगा।
श्री नागपाल ने बताया कि नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग हरियाणा हरेडा का उद्देश्य है कि किसान पम्पिंग सिस्टम के लिए परम्परागत पम्पिंग सिस्टमों पर कम निर्भर रहें व सोलर पंप का अधिक से अधिक प्रयोग करके बिजली की बचत करें। 
उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा खंड नारनौल, निजामपुर व नांगल चौधरी को अधिसूचित क्षेत्र घोषित किया हुआ है। इस क्षेत्र के केवल वे किसान जो सुक्षम सिंचाई, भूमिगत पाइप लाईन आदि से कार्य करते हैं तथा पौंड से पानी उठाते हैं।  इस बारे में जिला उद्यान अधिकारी एवं कृषि विभाग का प्रमाण पत्र लगाना आवश्यक है।

73 Comments

Click here to post a comment