Haryana

मंत्री के रूप में उन्हें जो ताकत मिली है वह इस इलाके की भलाई के लिए लगाएंगे: ओमप्रकाश यादव

मंत्री के रूप में उन्हें जो ताकत मिली है वह इस इलाके की भलाई के लिए लगाएंगे: ओमप्रकाश यादव

मंत्री के रूप में उन्हें जो ताकत मिली है वह इस इलाके की भलाई के लिए लगाएंगे: ओमप्रकाश यादव

नसीबपुर स्थित शहीद स्मारक पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते ओमप्रकाश यादव।त्रिभुवन वर्मा द्वारा :
नारनौल,16 नवंबर,2019:  सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव का आज जिले में विभिन्न स्थानों पर जोरदार स्वागत व अभिनंदन हुआ। इस मौके पर अटेली के विधायक सीताराम यादव भी मौजूद थे। जिले के गांव नीरपुर में आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए श्री यादव ने कहा कि मंत्री के रूप में उन्हें जो ताकत मिली है वह इस इलाके की भलाई के लिए लगाएंगे। यह इलाके का सम्मान है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री व राव इंद्रजीत का आभार जताते हुए कहा कि उनके दिशा निर्देशानुसार विकास को और अधिक गति देंगे। उन्होंने कहा कि विधायक बनने से पहले भी हमेशा समाज के हित के लिए कार्य किया है। वहीं अब जो मंत्री के रूप में ताकत मिली है उसका इलाके की भलाई के लिए प्रयोग करेंगे। इस मौके पर बुजुर्ग रघुवीर ने पगड़ी पहनाकर तथा डा. अनिल व असीम राव ने बुके भेंटकर मंत्री जी का अभिन्नदन किया। इस अवसर पर नारनौल के पूर्व विधायक राधेश्याम शर्मा, आर्किटेक्ट कृष्ण, प्रधान तपेश, सज्जन यादव, सरपंच ज्ञानचंद, कप्तान हरिसिंह, कृष्ण कमांडो आदि उपस्थित थे।
राव तुलाराम को किया नमन:
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव आज नसीबपुर स्थित शहीद स्मारक पर पहुंचकर राव तुलाराम को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह इलाका वीरों का इलाका रहा है। उन्होंने नसीबपुर-नारनौल के मैदान में अंग्रेजों से युद्ध किया जिसमें उनके पांच हजार से अधिक क्रांतिकारी सैनिक मारे गए थे। श्री रावतुलाराम ने  16 नवंबर 1857 को स्वयं ब्रिटिश सेना से नसीबपुर में युद्ध किया और ब्रिटिश सेना को कड़ी टक्कर दी। युद्ध में ब्रिटिश सेना के कमांडर जेरार्ड और कप्तान वालेस को मौत के घाट उतर दिया गया। इस मौके पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने आयोजित हवन कुंड में आहुति डाली।