6 जुलाई को डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंतीनारनौल में

6 जुलाई को डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंतीनारनौल में
ओमप्रकाश यादव

नारनौल, 5 जुलाई। प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने 6 जुलाई को डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर नारनौल में मनाए जाने वाले कार्यक्रम को लेकर भाजपा जिला अध्यक्ष शिव कुमार मेहता व अन्य भाजपा कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात की। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की सोच थी कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग रहे। भारत में जम्मू कश्मीर में एक ही झंडा हो एक ही संविधान हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त कर स्वर्गीय मंगल सेन के सपने को साकार किया है। उन्होंने कहा कि अगस्त 1952 में जम्मू कश्मीर की विशाल रैली में डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने संकल्प लिया था कि या तो जम्मू कश्मीर में समूचे भारत में जो संविधान लागू होता है उसको लागू कराऊंगा या इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए अपने जीवन को बलिदान कर दूंगा। उन्होंने तत्काल नेहरू सरकार को इस बात की चुनौती दी तथा वह अपने दृढ़ निश्चय पर अटल रहे। अपने इस संकल्प को पूरा करने के लिए वह 1953 में बिना परमिट के लिए जम्मू कश्मीर की यात्रा पर निकल पड़े वहां पहुंचने पर उन्हें गिरफ्तार कर पुलिस ने नजरबंद कर दिया। उनकी 23 जून 1953 को रहस्यमय परिस्थितियों में मृत्यु हो गई।
फोटो कैप्शन आज आयोजित डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती को लेकर महेंद्रगढ़ जिला भाजपा कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात करते मंत्री ओम प्रकाश यादव

All Time Favorite

Categories