मंत्री ओमप्रकाश यादव के नेक कार्य की चारों तरफ प्रशंसा

मंत्री ओमप्रकाश यादव के नेक कार्य की चारों तरफ प्रशंसा बी.एल. वर्मा द्वारा  : नारनौल, 2जनवरी ,2020: पंचायती मंत्री के नाम से मशहूर नारनौल विधानसभा क्षेत्र के विधायक व प्रदेश सरकार में मंत्री ओमप्रकाश यादव द्वारा किये गये नेक कार्य के लिए क्षेत्र में चारों और प्रशंसा हो रही है हुआ यूं कि गत रोज प्रदेश के सामाजिक न्याय एंव अधिकरिता मंत्री ओमप्रकाश यादव रेवाड़ी से नारनौल सडक़ मार्ग से आ रहे थे तो अटेली से कुछ दूरी पर राजस्थान के जिला अलवर के गांव हुडिय़ा निवासी 30 वर्षीय छोटेलाल बुरी तरह घायल अवस्था में अपनी मोटर साईकिल सहित रोड़ के किनारे पड़ा था तथा वाहनों का उनके पास से निरंतर आना जाना हो रहा था लेकिन किसी ने भी अपने वाहन को रोककर घायल छोटेलाल को उठाने की हिम्मत नहीं की।

इसी दौरान मंत्री ओम प्रकाश यादव का काफिला उनके पास से गुजर रहा था कि मंत्री ओम प्रकाश यादव की निगाह रोड पर पड़ी बाइक व घायल व्यक्ति पर पड़ी। उन्होंने तुरंत अपने काफिले को रुकवाया तथा घायल को स्वयं अपने हाथों से उठारकर साथ चल रही पुलिस की गाडीयों में बैठाकर अपने साथ चल रही पुलिस को भी घायल छोटे लाल के साथ ही भेज कर रेवाड़ी अस्पताल में पहुंचाया।

उन्होंने पुलिस को इस संबंध में घायल छोटेलाल की बाइक को टक्कर मारने वाले की भी तलाश करने के आदेश दिए। मंत्री के इस कार्य के लिए नारनौल क्षेत्र के वरिष्ठ अधिवकता प्रमोद तरेडिय़ा,नगर पार्षद हंसराज,राजु खासपुर,नगर पार्षद सरला यादव,राजु कमानियां सहित दर्जनों लोगों ने कहा कि इलाके को तथा साथ ही प्रदेश को एक सेवादार के रूप में नारनौल के लोगों ने ओमप्रकाश यादव जैसे एक अच्छे व्यक्ति को चुना है तथा नारनौल की जनता ने एक सही व्यक्ति को मतदान में जीता कर प्रदेश व इलाके की सेवा के लिए भेजा है।

नहीं कि मंत्री ने अपनी सुरक्षा की परवाह घायल छोटेलाल को रेवाड़ी अस्पताल पहुंचाने के लिए मंत्री ओमप्रकाश यादव ने अपनी सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों को भी उनके साथ रेवाड़ी भेज दिया तथा अटेली से नारनौल तक उन्होंने अपनी सुरक्षा व जान की परवाह किए बिना अत्यधिक धुंध व कोहरे में ही अपनी गाड़ी से चले आए और लगातार अपने सुरक्षाकर्मियों से संपर्क में बने रहे जब तक छोटेलाल की हालत खतरे से बाहर नहीं हो गई तब तक मंत्री ओम प्रकाश यादव सिविल अस्पताल रेवाड़ी के चिकित्सकों व अपने सुरक्षाकर्मियों से दूरभाष से संपर्क में रहे।

About the author

SK Vyas

SK Vyas

Add Comment

Click here to post a comment

All Time Favorite

Categories